बेफिक्रे-उड़ता पंजाब-मस्तीजादे

ये हैं साल 2016 की वे 10 फिल्में जिनको सेंसर बोर्ड ने चर्चित बना दिया

बॉलीवुड में हर साल करीब हज़ार फ़िल्में बनती हैं. इन पर करोड़ो रुपए खर्च किये जाते हैं. जिसके बाद कुछ फ़िल्में हिट होती हैं तो कुछ कब आई और गयी इसका अंदाज़ा भी किसी को नहीं होता. अब फिल्मों का हिट होना भी किसी एक बात पर तो निर्भर होता नहीं है. कई फ़िल्में अपनी अच्छी कहानी की वजह से हिट होती हैं, तो कई स्टार्स की वजह से तो कई फिल्में हिट होती हैं सेंसर बोर्ड की कैंची की वजह से. इसका सबसे बड़ा सबूत है फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ जो विवादों की वजह से ही हिट हुई. वैसे इस साल सेंसर बोर्ड ने भी कई फिल्मों पर दिल खोल के अपनी कैंची चलाई है.

आज हम आपको बता रहे हैं इस साल की सबसे ज्यादा विवादों में रही कुछ चुनिंदा फिल्मों के बारे में.

उड़ता पंजाब

अनुराग कश्यप की फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ सेंसरशिप के विवाद में फंस गई. केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) ने इस फिल्म से 89 दृश्य हटाने को कहा था. फिल्म के निर्माताओं ने आखिरकार बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. अदालत ने महज एक दृश्य हटाने और डिस्क्लेमर के निर्देश के साथ इसकी रिलीज को मंजूरी दे दी. इस फिल्म में पंजाबी सिंगर दिलजीत दोसांझ को बहुत पसंद किया गया था.

क्या कूल हैं हम 3

एडल्ट कॉमेडी फिल्म ‘क्या कूल हैं हम 3’ के बोल्ड सीन्स पर भी सेंसर बोर्ड ने कड़ी आपत्ति जताई थी. बोर्ड ने इस फिल्म पर 139 कट्स लगाए जिसके बाद इस फिल्म को ‘A’ सर्टिफिकेट के साथ रिलीज करने की इजाजत दी थी.

ऐ दिल है मुश्किल

ऐश्वर्या राय बच्चन, रणबीर कपूर और अनुष्का शर्मा स्टारर फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ भी पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान की वजह से विवादों में रही. इसके अलावा सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म में से कई सीन्स को कट किया. खबरों की मानें तो फिल्म के एक किस सीन को 50 प्रतिशत तक छोटा कर दिया गया था. साथ ही बच्चन फॅमिली ने भी फिल्म में रणबीर और ऐश्वर्या के लिप लॉक सीन्स को ना दिखाने की दरखास्त की थी.

ayedil

अलीगढ़

सेंसर बोर्ड ने मनोज बाजपेयी स्टारर फिल्म ‘अलीगढ़’ को A सर्टिफिकेट के साथ रिलीज करने की अनुमति दी थी. खबरों की मानें तो इस फिल्म पर सेंसर ने काफी कैंची चलाई थी, जिसके बाद इसको सिनेप्लेक्स की स्क्रीन पर उतारा गया.

aligarh

बार बार देखो

कैटरीना कैफ और सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म ‘बार बार देखो’ के ब्रा वाले सीन और सविता भाभी वाले सीन पर सेंसर ने कैंची चलाई थी.

baar-baar

लव गेम्स

‘लव गेम्स’ को लेकर भी कई विवाद हुए थे. यह फिल्म विक्रम भट्ट स्टाइल फिल्म थी. फिल्म में बोल्ड, उत्तेजक और हॉट सीन की भरमार थी. जिसके बाद सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को ‘A’ सर्टिफिकेट के साथ रिलीज करने की अनुमति दी थी.

love-games

बेफिक्रे

रणवीर सिंह की फिल्म ‘बेफिक्रे’ पर भी सेंसर की कैंची चली. इस फिल्म में से एक ‘गे किस’ के सीन को हटाया गया. यूँ तो यह फिल्म सेंसर की कैंची से बहुत बच गयी क्योंकि इस फिल्म में ऐसे कई सीन्स देखने को मिले जिनको हटाया जा सकता था.

befikre-nwe

मस्तीजादे

इस साल की सबसे बोल्ड फिल्मों में से एक ‘मस्तीजादे’ ने सबसे ज्यादा सेंसरशिप झेला. फिल्म में एडल्ट कंटेंट होने की वजह से सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म पर 381 कट्स लगाए थे. जिसमें से 349 सीन्स को काटने की सिफारिश तो केवल सेंसर बोर्ड की ओर से ही की गई थी. फिल्म ‘A’ सर्टिफिकेट के साथ रिलीज की गई थी. फिल्म की जान थी पोर्न स्टार सनी लियोनी.

mastizade

वीरप्पन

राम गोपाल वर्मा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘वीरप्पन’ इस साल विवादों में रही. सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म के कुछ सीन्स पर कैंची चलाई थी जिसके बाद ये रिलीज हो सकी.

veerapan

लव के फंडे

फिल्म ‘लव के फंडे’ में बोल्ड सीन और डायलॉग्स होने की वजह से सेंसर बोर्ड ने इसे ‘ए’ सर्टिफिकेट दिया. फिल्म में शालीन भनोट, रिशंक तिवारी, सूफी गुलाटी, रितिका गुलाटी, हर्षवर्धन जोशी, समीक्षा भटनागर, राहुल सूरी और पूजा बनर्जी जैसे कलाकार नजर आए.

love-ke-funday